Monday , 16 September 2019
Breaking News
NPPA ने कैंसर के मरीजों को दी बड़ी राहत, 9 दवाओं की कीमत में की 87 फीसदी तक की कटौती

NPPA ने कैंसर के मरीजों को दी बड़ी राहत, 9 दवाओं की कीमत में की 87 फीसदी तक की कटौती

नई दिल्‍ली. राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) ने कैंसर रोधी दवाओं के दामों में भारी कटौती की है. एनपीपीए ने कैंसर  के मरीजों को बड़ी राहत देते हुए दवाओं के दाम कम किए हैं. बता दें कि मार्च के बाद ये दूसरा मौका है जब एनपीपीए (NPPA) ने कैंसर के दवाओं के दाम घटाए हैं. एनपीपीए ने 9 कैंसर की दवाओं के दाम 87 फीसदी तक कम कर दिए हैं.

कीमत कम होने के बाद कैंसर की दवाओं के दाम

मीडिया रिपोट्स के मुताबिक इन 9 दवाओं में आमतौर पर फेफड़े के कैंसर के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली कीमोथेरेपी इंजेक्शन शामिल हैं. संशोधित आदेश के अनुसार पेमएक्सेल (Pemxcel) ब्रांड के तहत बेची जाने वाली 500 मिलीग्राम की पेमेट्रेक्सेड (pemetrexed) इंजेक्शन की कीमत 22 हजार से घटाकर 2 हजार 800 रुपए कर दिया गया है. हालांकि 100 मिलीग्राम डोज की इंजेक्शन 7 हजार 700 से कम कर 800 रुपए कर दिया गया है.

इसी तरह एपिक्लोर (Epichlor) के ब्रांड के तहत बेची जाने वाली 10 मिलीग्राम एपिरूबिसिन (epirubicin) की कीमत 561 के मुकाबले में 276.8 रुपए हो गई है. इसी इंजेक्शन की 50 मिलीग्राम खुराक की कीमत 2 हजार 662 से कम होकर 960 रुपए होगी.

प्रमुख दवा निर्माताओं ने कीमतों में कटौती के असर पर टिप्पणी नहीं की है, हालांकि स्वास्थ्य उद्योग के प्रवक्ताओं ने कहा है कि कंपनियों को उत्पादन मात्रा में कटौती नहीं करने के लिए कहा गया है. एर्लोटाज (Erlotaz) के रूप में बेचे जाने वाले 10 टैबलेट के एर्लोटिनिब (erlotinib) 100 मिलीग्राम पैक की कीमत 6 हजार 600 के पुराने कीमत के मुकाबले 1 हजार 840 रुपए होगी तो वहीं 150 मिलीग्राम की ताकत वाले 10 टैबलेट पैक की कीमत 8 हजार 800 से घटाकर 2 हजार 400 रुपए कर दी गई है.

इसी प्रकार जो लानोलिमस (Lanolimus) के ब्रांड के तहत बेची जाने वाली दवा एवरोलिमस (everolimus) की कीमत में भी भारी कमी की गई है. 0.25 मिलीग्राम की खुराक वाली दवा अब 726 से कम करके 406 रुपए कर दिया गया है. वहीं, 0.5 मिलीग्राम के दाम 1 हजार 452 से घटाकर 739 रुपए कर दिया गया है.

देश में दवाओं के दाम की निगरानी करता है एनपीपीए

गौरतलब है कि राष्ट्रीय फार्मास्युटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी (एनपीपीए) केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्रालय के विशेषज्ञों का एक स्वतंत्र निकाय है, जो देश में दवा की कीमतों की निगरानी और नियंत्रण करता है. बता दें कि मार्च के बाद ये दूसरी बार है जब एनपीपीए ने कैंसर रोधी दवाओं पर मूल्य में कटौती की घोषणा की है.

https://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News