Wednesday , 18 September 2019
Breaking News
इंदौर आपरेशन कांड: चैन्नई के नेत्र विशेषज्ञ डॉ. रमण ने शुरू किया पीडि़तों का इलाज, तीन पीडि़तों को इलाज के लिए भेजा जाएगा चैन्नई

इंदौर आपरेशन कांड: चैन्नई के नेत्र विशेषज्ञ डॉ. रमण ने शुरू किया पीडि़तों का इलाज, तीन पीडि़तों को इलाज के लिए भेजा जाएगा चैन्नई

इंदौर, 18 अगस्त (उदयपुर किरण). प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने रविवार को चोईथराम नेत्रालय पहुंचकर मोतियाबिंद ऑपरेशन से आंखों की रोशनी जाने वाले पीडि़तों से चर्चा कर उनका हाल जाना. उन्होंने भरोसा दिलाया कि पीडि़तों के इलाज में कोई कसर नहीं रखी जायेगी. मुख्यमंत्री कमलनाथ भी इस घटना से चिंतित हैं. उन्होंने निर्देश दिये हैं कि मरीजों को बेहतर से बेहतर इलाज उपलब्ध कराया जाये. इस क्रम में देश के प्रख्यात चिकित्सक डॉ. राजीव रमण को इंदौर बुलाकर पीडि़तों का इलाज शुरू कराया गया है. उन्होंने रविवार को सभी पीडि़तों का इलाज शुरू कर दिया है. वे चार दिन तक इंदौर में रहकर मरीजों का उपचार करेंगे. डॉ. रमण द्वारा चार मरीजों का ऑपरेशन इंदौर में ही किया जाएगा. तीन मरीजों को इलाज के लिये शासकीय खर्च पर वायुयान द्वारा शंकर नेत्रालय चैन्नई भेजा जायेगा. यह सोमवार को रवाना होंगे. चार मरीजों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है.

मंत्री सिलावट ने कहा कि मोतियाबिंद का ऑपरेशन करने वाले अस्पताल तथा घटना से जुड़े चिकित्सक एवं लापरवाही बरतने वाले सभी जिम्मेदारों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने प्रारंभिक स्तर पर लापरवाही पाये जाने पर जिला अंधत्व निवारण समिति के प्रभारी डॉ. टी.एस. होरा को तत्काल निलम्बित करने के निर्देश संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी को दिये. उन्होंने इंदौर तथा धार के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों और अंधत्व निवारण कार्यक्रम के राज्य स्तरीय नोडल अधिकारी को कारण बताओ नोटिस देने के निर्देश दिये. साथ ही सिलावट ने निर्देश दिये कि मोतियाबिंद ऑपरेशन में लगने वाली सामग्री देने वाले संस्थान का लायसेंस तत्काल निरस्त किया जाये. संबंधित अस्पताल को आज से कुछ वर्ष पूर्व इसी तरह की हुयी घटना के बाद लायसेंस देने वाले अधिकारी के विरुद्ध भी कार्रवाई की जाये.

मंत्री सिलावट ने कहा कि इंदौर आई हास्पीटल” को आवंटित शासकीय जमीन की लीज निरस्त की जाये. दोषियों को किसी भी हालत में बक्शा नहीं जायेगा. सभी संबंधित दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने निर्देश दिये कि भविष्य में जहां भी स्वास्थ्य संबंधी शिविर लगे, वहाँ स्वास्थ्य विभाग का एक अधिकारी अनिवार्य रूप से उपस्थित रहें. मंत्री सिलावट ने अस्पताल पहुंचकर भर्ती मरीजों से चर्चा की. उनके हाल-चाल जाने. उन्हें तथा परिजनों को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार घटना के प्रति बेहद गंभीर है. मरीजों को बेहतर से बेहतर इलाज कराया जायेगा. इलाज का पूरा खर्च राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा. मरीजों तथा उनके परिजनों के खाने, रहने आदि की पूरी व्यवस्था की जायेगी.

सिलावट ने बताया कि घटना की गहनता एवं सुक्ष्मता से जाँच, दो स्तरों पर करायी जायेगी. प्रशासनिक संबंधी लापरवाही की जाँच संभागायुक्त त्रिपाठी के नेतृत्व में तथा चिकित्सकीय लापरवाही की जाँच मेडिकल कॉलेज इंदौर की डीन डॉ. ज्योति बिंदल के नेतृत्व में होगी. इसके आधार पर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई होगी.

मंत्री सिलावट रविवार को दोपहर में मरीजों का हाल-चाल जानने चोईथराम नेत्रालय पहुंचे. यहाँ आते ही उन्होंने एक-एक मरीजों से चर्चा की. परिजनों को भी मिले. उन्हें आश्वस्त किया कि किसी भी तरह की कोर-कसर इलाज में नहीं रखी जायेगी. इस बीच में शंकर नेत्रालय चैन्नई के विशेषज्ञ चिकित्सक डॉ. राजीव रमण आ गये. डॉ. राजीव रमण से मंत्री सिलावट ने कहा कि वे मरीजों का इलाज तुरन्त शुरु करें. डॉ. राजीव रमण मरीजों की जाँच के लिये कमरे में चले गये. इसके बाद मंत्री ने अधिकारियों तथा जाँच दल के सदस्यों से विस्तारपूर्वक चर्चा की.

सिलावट दिन भर अस्पताल में डॉक्टरों के सम्पर्क में रहे. अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते रहे. उन्होंने मरीजों के इलाज की पल-पल की जानकारी प्राप्त की. डॉ. राजीव रमण के आने के पश्चात इलाज के संबंध में हुई प्रगति की जानकारी वे मुख्यमंत्री कमलनाथ को देते रहे. चेन्नई से आए डॉ. राजीव रमण ने सभी मरीज़ों का परीक्षण किया. स्वास्थ्य मंत्री सिलावट देर शाम तक अस्पताल में मौजूद रहे. डॉक्टरों से मंत्रणा के पश्चात यह निर्णय लिया गया कि कुल 11 मरीज़ों में से चार की तत्काल सर्जरी शुरू की गई है. साथ ही तीन मरीजों को उनके अटेंडेंट के साथ चैन्नई भेजा जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग का एक अधिकारी भी मरीजों के साथ जायेगा. इन्हें कल की फ़्लाइट से चैन्नई भेजा जाएगा. अन्य चार मरीज़ों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News