Sunday , 16 June 2019
Breaking News
मणिपुर में भी भाजपा ने जमाया कब्जा

मणिपुर में भी भाजपा ने जमाया कब्जा

 

इंफाल, 26 मई (उदयपुर किरण). इस बार के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने न सिर्फ मणिपुर में खाता खोला है, बल्कि अच्छा-खासा वोट पाने में भी सफल हुई है. इससे साबित होता है कि भाजपा का पूर्वोत्तर राज्यों में भी विस्तार हो रहा है. साथ ही यहां की जनता केंद्र की नरेन्द्र मोदी के विकास कार्यों से भी प्रभावित है.

उल्लेखनीय है कि मणिपुर में लोकसभा की दो सीटें हैं. अब तक हुए लोकसभा चुनावों में भाजपा को कोई भी सीट प्राप्त नहीं हुआ है.
यहां कांग्रेस और क्षेत्रीय दलों के बीच ही सीधा मुकाबला रहा है, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में हालात बहुत हद तक बदले गए हैं. कांग्रेस ने अंदर ही अंदर अपने धुर विरोधी नेशनल पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) से समझौता किया. बावजूद इसके जहां मणिपुर इनर सीट पर भाजपा उम्मीदवार डॉ राजकुमार रंजन सिंह को 34.72 फ़ीसदी वोटों के साथ जीत मिली, वहीं मणिपुर आउटर सीट पर भी भाजपा को 33.77 फ़ीसदी वोट मिले.
दरअसल, केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार और मणिपुर की एनडीए नेतृत्व वाली सरकार के समय में मणिपुर के चौमुखी विकास के लिए कई योजनाएं शुरू की गई, जिससे लोगों का सहज झुकाव भाजपा की तरफ हुआ. हालांकि, चुनाव के दौरान कांग्रेस और एनपीएफ ने भाजपा पर ईसाई विरोधी होने का जमकर आरोप लगाया.
इतना ही नहीं कई किस्म के दुष्प्रचार किए गए. बावजूद इसके भाजपा के उम्मीदवार दूसरे ईसाई बहुल सीट पर भी मामूली मतों के अंतर से चुनाव हारे. इससे साबित होता है कि राज्य के मतदाताओं ने नरेन्द्र मोदी के विकास कार्यों को सराहा और इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें अपना समर्थन दिया.
सनद रहे कि एनपीएफ नगालैंड की पार्टी है. इस पार्टी के बीच से ही नेशनल डेमोक्रेटिक पीपुल्स पार्टी (एनडीपीपी) का भी जन्म हुआ. एनपीएफ के विधायक मणिपुर सरकार में भाजपा के साथ शामिल हैं, जबकि लोकसभा चुनाव में इस दल ने अंदर ही अंदर नगालैंड और मणिपुर में कांग्रेस के साथ समझौता कर लिया था.
बावजूद इसके नगालैंड में एनपीएफ चारों खाने चित्त हो गई, जबकि मणिपुर में काफी जद्दोजहद के बाद उसे एक सीट पर सफलता प्राप्त हुई. चुनाव परिणामों के साथ एनपीएफ के नेताओं को भी यह बात पूरी तरह समझ में आ गया कि भाजपा से अलग होकर उनका कोई अस्तित्व कांग्रेस के साथ नहीं बन सकता है.

 

https://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News