Tuesday , 21 May 2019
Breaking News
प्रधानमंत्री ने विदेश यात्रा के दौरान मिले प्रोजेक्ट सरकारी की बजाय निजी कंपनियों को दिलाये : सिद्धू

प्रधानमंत्री ने विदेश यात्रा के दौरान मिले प्रोजेक्ट सरकारी की बजाय निजी कंपनियों को दिलाये : सिद्धू

नई दिल्ली, 20 अप्रैल (उदयपुर किरण). कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी सरकार पर सरकारी कंपनियों को डूबोकर अंबानी और अडानी की कंपनियों को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया है. शनिवार को नवजोत सिंह सिद्धू ने एक प्रेसवार्ता कर बताया कि प्रधानमंत्री ने अपनी विदेश यात्राओं के दौरान मिले कई प्रोजेक्टों को सरकारी कंपनियों की बजाय निजी कंपनियों को दिलाया है.

सिद्धू ने कहा कि वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री के कहने पर ही अंबानी की कंपनी ‘रिलायंस डिफेंस’ को 6 बिलियन यूएस डॉलर का कांट्रेक्ट मिला. फ्रांस से हुई राफेल डील में भी प्रधानमंत्री मोदी के कारण ही अंबानी को फायदा दिलाया गया. उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री के 55 देशों की यात्रा में अंबानी और अडानी साथ गए और इस दौरान कई देशों के साथ 18 बड़े सौदे किए गए. सिद्धू ने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि देश की सरकारी कंपनियों को जो ठेके मिलने चाहिए थे, उन्हें प्रधानमंत्री ने अंबानी और अडाणी को दिलवाए. इसके अलावा भारतीय वायु सेना के लिए लड़ाकू विमान बनाने के लिए अडानी की कंपनी ने स्वीडन की कंपनी से साझेदारी की. ये डील भी प्रधानमंत्री के कहने पर ही अडानी की कंपनी के साथ किया गया.

उन्होंने कहा कि सरकारी कंपनियां डूब रही हैं. उनके पास कर्मचारियों को देने के लिए पैसे नहीं हैं और प्रधानमंत्री सभी ठेके निजी कंपनियों को दिला रहे हैं. सिद्धू ने कहा कि प्रधानमंत्री जब बांग्लादेश के दौरे पर गए तो 3,000 मेगावॉट बिजली का ठेका अंबानी और अडानी को दे दिया गया. एनटीपीसी को पूछा तक भी नहीं गया. साथ ही यह भी कहा कि अडानी को ऑस्ट्रेलिया में दुनिया के सबसे बड़ी कोयला खदान का ठेका मिला. ईरान में 500 मिलियन का ठेका हासिल किया. मोजाम्बिक, ओमान, म्यामांर और चीन में भी इन्हीं कंपनियों को ठेके दिए गए.


https://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline
Inline