Sunday , 26 May 2019
Breaking News
कानपुर ट्रेन हादसा : मालगाड़ी को निकालकर चालू किया गया रेलवे का एक ट्रैक

कानपुर ट्रेन हादसा : मालगाड़ी को निकालकर चालू किया गया रेलवे का एक ट्रैक

कानपुर, 20 अप्रैल (उदयपुर किरण) (अपडेट). हावड़ा से नई दिल्ली जा रही पूर्वा एक्सप्रेस के डिरेल होने के बाद से रेलवे लगातार ट्रैक को दुरुस्त करने में जुटा रहा, जिसकी वजह से डाउन ट्रैक को सवा सात बजे चालू किया जा सका. रेलवे ने सबसे पहले ट्रैक से मालगाड़ी को ट्रायल के तौर पर निकाला और इसके बाद विक्रमशिला एक्सप्रेस को निकालकर ट्रैक को सुचारु रूप से चालू कर दिया. अभी तक दुर्घटनाग्रस्त वाले अप ट्रैक को चालू नहीं किया जा सका है.

हावड़ा से नई दिल्ली जा रही पूर्वा एक्सप्रेस देर रात कानपुर जिले के रुमा और चकेरी के बीच पटरी से उतर गई. हादसे के बाद घटनास्थल पहुंचे उत्तर मध्य रेलवे डीआरएम अमिताभ ने बताया कि अभी यात्रियों को सकुशल उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाना रेलवे की जिम्मेदारी है. हादसे की जांच की जा रही है. जांच के बाद ही हादसे की असली वजह पता चल पाएगी. हादसे में पूर्वा एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं. इनमें से चार डिब्बे पलटने के कारण बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए. हादसे में करीब दो दर्जन यात्री घायल हो गए हैं, हालांकि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर यात्रियों को सकुशल निकाला, जिसका मैं आभार व्यक्त करता हूं.

घटनास्थल से यात्रियों को ले जाने के लिए पुलिस की गाड़ियां और बसें लगाई गई हैं. डीआरएम ने बताया कि हादसे के लिए एक जांच टीम गठित की जाएगी, जो घटना के कारणों का पता लगाएगी. उन्होंने बताया कि अभी तक आला अधिकारियों से बात करने के बाद ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है कि किसी बाहरी तत्वों का इस घटना में कोई हाथ हो. डीआरएम ने बताया कि रेलवे के द्वारा हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिया गया है और रुट को भी डायवर्ट किया गया है, ताकि जो ट्रेन हावड़ा से दिल्ली की तरफ से आ रही हैं, वह डाइवर्ट करके निकाली जा सकें.

डीआरएम ने बताया कि रेलवे ने हादसे के फौरन बाद ट्रैक को दुरुस्त करने का काम शुरू कर दिया, जिसके चलते डाउन ट्रैक को चालू किया जा सका. सबसे पहले ट्रायल के रूप में मालगाड़ी को निकाला गया और इसके बाद सवारी से भरी विक्रमशिला एक्सप्रेस को निकाला गया है. दोनों गाड़ी ट्रैक से सकुशल निकल गयी हैं. जो भी कमी रह गयी, उसे भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा, जिससे ट्रैक को पूरी तरह से चालू किया जा सके. डीआरएम ने बताया कि हादसे में कोई बड़ी जनहानि नहीं हुई है और घायलों को पांच-पांच हजार रुपये दिये जाएंगे.


https://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline
Inline