Sunday , 20 January 2019
Breaking News
सोशल साइट पर प्रोफेसर का वर्जिनिटी (कौमार्य) ज्ञान : लड़कियों की वर्जिनिटी की तुलना सील या बंद कोल्ड ड्रिंक की बोतल से की

सोशल साइट पर प्रोफेसर का वर्जिनिटी (कौमार्य) ज्ञान : लड़कियों की वर्जिनिटी की तुलना सील या बंद कोल्ड ड्रिंक की बोतल से की

कोलकाता, 14 जनवरी (‍उदयपुर किरण.). विवादित टिप्पणियों की वजह से अमूमन सवालों के घेरे में रहने वाले जादवपुर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कनक सरकार ने लड़कियों की वर्जिनिटी (कौमार्य) को लेकर सोशल साइट पर एक नया पोस्ट शेयर किया है. उनके इस विवादित पोस्ट पर जब लोगों ने उन्हें घेरना और आलोचना शुरू किया, तब आनन-फानन में फेसबुक पोस्ट को हटा दिया.

वे पहले भी महिलाओं और लड़कियों को लेकर विवादित पोस्ट करते रहे हैं. इस बार उन्होंने सोशल साइट पर पोस्ट में युवाओं को वर्जिन दुल्हन से ही शादी करने की नसीहत दी है. इतना ही नहीं उन्होंने लड़कियों की वर्जिनिटी की तुलना सील या बंद कोल्ड ड्रिंक की बोतल से की है. हालांकि, उनके पोस्ट पर जब लोगों ने उन्हें घेरना और निंदा करना शुरू किया, तब उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ और आनन-फानन में फेसबुक पोस्ट को डिलीट किया. लेकिन, तब तक वह पोस्ट कई बार साझा किया जा चुका था और लोगों ने उसका स्क्रीनशॉट भी ले लिया था.

प्रोफेसर ने लिखा है कि लड़की जन्म के वक्त से ही जैविक रूप से सील होती है, जब तक कि कोई उसे खोले नहीं. उन्होंने लिखा है, वर्जिन दूल्हन- क्यों नहीं ? शिक्षित युवकों के लिए मूल्य आधारित सोशल काउंसिलिंग. पोस्ट में लिखा है कि कई लड़के मूर्ख रहते हैं और वे पत्नी के तौर पर वर्जिन लड़की से रूबरू नहीं होते. वर्जिन लड़की एक सील किए हुए बोतल या सील पैकेट की तरह है. सवाल किया है कि, क्या आप टूटे सील वाली कोल्ड ड्रिंक की बोतल या बिस्किट का पैकेट खरीदने की इच्छा रखते हैं?

इसके बाद प्रोफेसर ने लिखा है कि वर्जिन पत्नी एक एंजेल (परी) की तरह होती है. वर्जिन लड़की का मतलब वैल्यू, कल्चर और सेक्सुअल हाइजीन से लैस होना होता है. उनके इस पोस्ट के बाद बड़ी संख्या में फेसबुक यूजर्स ने उन्हें घेरना शुरू कर दिया था. कई लोगों ने उन्हें महिलाओं का अपमान करने को लेकर कानूनी कार्रवाई तक की चेतावनी दे डाली. इसके बाद उन्होंने बाद में फेसबुक पोस्ट डिलिट कर दिया. लेकिन, कुछ यूजर्स ने फेसबुक पर दोबारा उनके पोस्ट के स्क्रीनशॉट डाल दिए.

इसके पहले भी नौ फरवरी को लिखे गए एक पोस्ट में प्रोफेसर ने लिखा था कि आजकल के लड़के-लड़कियां सोचते हैं कि कुंवारापन और वर्जिनिटी नैतिकता का हिस्सा नहीं है. इसी वजह से लड़कियां धूर्त लड़कों द्वारा शोषित होती हैं. हर पुरुष वर्जिन पत्नी चाहता है और इसकी इज्जत करता है. कनक ने जापानी सोसायटी का जिक्र करते हुए लिखा था कि वहां की 99 फीसदी लड़कियां शादी तक वर्जिन रहती हैं. वह सोसायटी काफी प्रोग्रेसिव और विकसित है.

इसके पहले भी 22 दिसम्बर के फेसबुक पोस्ट में उन्होंने वर्जिनिटी को इज्जत से भी जोड़ा था. प्रोफेसर ने लिखा था कि अगर कोई लड़की शादी से पहले वर्जिन है तो उसे गर्व होना चाहिए और इसे सेलिब्रेट करना चाहिए. उन्होंने लिखा था कि शादी की बातचीत, लव अफेयर या शादीशुदा जिंदगी में भी लड़कियों को वर्जिनिटी का जिक्र करना चाहिए, इससे उनके पति या प्रेमी इज्जत देंगे. उल्लेखनीय है कि महिलाओं को लेकर अमूमन विवादित टिप्पणी करने की वजह से प्रोफेसर कनक सरकार हमेशा विवादों में घिरे रहते हैं.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*