Saturday , 17 November 2018
Breaking News
राजस्‍थान में बेकाबू हुआ डेंगू और जीका

राजस्‍थान में बेकाबू हुआ डेंगू और जीका

जयपुर, 15 अक्टूबर (उदयपुर किरण). प्रदेश में डेंगू बेकाबू होता जा रहा है. शहर में प्रतिदिन हर कॉलोनी में नए-नए मरीज सामने आ रहे है. हर कॉलोनी में वायरल के ही 200 से 300 मरीज सामने आ रहे है. इसे लेकर लोग भी खौफजदा हैं. बुखार पीडित लोग प्राइवेट लेबोरेट्री में पहुंचकर अपने खून की जांच करवा रहे हैं और उसमें से कई लोगों में डेंगू पाजीटिव आ रहा है. इधर जयपुर में तमाम रोकथाम के बावजूद जीका वायरस के मरीज मिलना जारी है. आज करीब सात नए मरीज सामने आए. ऐसे में इनकी संख्या अब 72 तक जा पहुंची है. सोमवार को भी स्वास्थ्य विभाग की एसीएस वीनू गुप्ता ने सघन दौरा किया और चिकित्सक अधिकारियों को इससे निपटने के लिए सख्त कदम उठाने की बात कही. राजपूत छात्रावास में भी जीका पीडित छात्रों की संख्या 11 पहुंच गई है.

पिछले कुछ दिनों में डेगू के सैकड़ों केस पॉजीटिव आ चुके हैं और इनमें कई मरीज उपचाराधीन हैं. इस वक्त डेंगू की स्थिति थोड़ी बिगड़ी हुई दिखाई दे रही है. शहर में डेंगू के बढ़ रहे मामलों के कारण प्राईवेट जांच सेंटरों की चांदी हो चुकी है तो निजी अस्पताल भी जमकर चांदी कूट रहे है. अस्पताल मरीज से अटने के कारण भर्ती करने की जगह नहीं मिल पा रही है. डाक्टरों के अनुसार लोगों को यदि बुखार हो और टूट न रहा हो तो लोगों को डेंगू टेस्ट जरूर करवाना चाहिए.

महेश नगर निवासी हरविंद्र सिंह ने बताया कि लगातार डेंगू के मामले सामने की वजह से लोगों में डर पनप चुका है और साथ ही लोगों में निगम और स्वास्थ्य महकमे की कार्रवाई को लेकर रोष भी. क्योंकि अभी तक प्रशासन ने डेंगू से निपटने के लिए कोई भी पुख्ता इंतजाम नहीं किए हैं. फॉगिंग भी नहीं करवाई जा रही है और प्लाटों के पानी को भी नहीं निकाला जा रहा है.

तरफ जहां डेंगू वायरस रुकने का नाम नहीं ले रहा है तो वहीं अब स्क्रब टायफस फैलने का खतरा हैं. विभाग के अधिकारियों की मानें तो इस मौसम में स्क्रब टायफस बुखार की चपेट में लाने वाला पिस्सू बरसात में अधिक सक्रिय हो जाता है. अक्टूबर तक स्क्रब का खतरा अधिक रहेगा. वहीं स्क्रब टायफस बुखार को लेकर लापरवाही बरतना मरीज को भारी पड़ सकता है. डाक्टरों के अनुसार स्क्रब टायफस बुखार तीन दिन में ही असर दिखाना शुरू कर देता है. यदि बुखार होने के तीन दिन के दौरान इसकी दवा नहीं ली तो स्क्रब टायफस शरीर में किडनी और लिवर को डैमेज कर देता है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*