Saturday , 15 December 2018
Breaking News
कोटा के भाजपा जिलाध्यक्ष के घर में बांसवाड़ा निवासी नौकर ने लगाई फांसी

कोटा के भाजपा जिलाध्यक्ष के घर में बांसवाड़ा निवासी नौकर ने लगाई फांसी

कोटा, 07 अक्टूबर (उदयपुर किरण). कोटा शहर जिला भाजपा अध्यक्ष हेमन्त विजयवर्गीय के घर में रहने वाले नौकर ने शनिवार रात कमरे के पंखे से लटक कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. विजयवर्गीय परिवार नौकर को अपने बेटे के समान समझते थे जिन्होंने उसका अद्मिसिओं स्कूल में कर कर उसकी पढ़ाई का खर्चा भी खुद उठा रहे थे.

जानकारी के अनुसार राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के रेवाड़ी मोहल्ला कृष्णा की ढाणी निवासी दीपेश रेवाड़ी (19) पुत्र भवना रेवाड़ी हाल निवासी भाजपा शहर जिला अध्यक्ष हेमंत विजयवर्गीय के मकान में नौकर का काम करता था. हेमंत विजयवर्गीय व उनकी पत्नी एडवोकेट हेमलता विजयवर्गीय की संतान कोटा के बाहर रहने के कारण घर मे नोकर दीपेश सहित कुल 4 सदस्य थे. हेमंत विजयवर्गीय के पिता डॉ. दयाकिशन की उम्र अधिक होने के कारण दीपेश उनके पिता को संभालने, रोज मंदिर दर्शन करने, उनकी पत्नी एडवोकेट हेमलता को कोर्ट छोड़ने जाने का काम करता था. हेमंत विजयवर्गीय प्रधानमंत्री की यात्रा में गए हुए थे जहां से रविवार सुबह करीब 4:00 बजे घर लौटे. जिसके बाद सुबह 9 बजे तक दीपेश के नही उतने पर उनकी पत्नी हेमलता ने उन्हें उठाकर बताया.

इसके बाद उन्होंने दीपेश को फोन लगाया तो फोन स्विच ऑफ मिला, घर मे काम करने वाले एक अन्य युवक ऊपर जाकर दीपेश को जगाने के लिए भेजा, जब उसने ऊपर जाकर देखा तो कमरे के दरवाजे व खिड़की लगी हुई थी. इतने में कारपेंटर का काम करने आए रोहित नामक युवक ने दीपेश के कमरे में देखा तो दीपेश की लाश कमरे के फंखे पर फांसी पर लटका देखा. घटना की जानकारी मिलने पर विजय वर्गीय परिवार हक्का बक्का रहा गयं. इसकी जानकारी हेमंत विजयवर्गीय ने नयापुरा थाना पुलिस को दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवक के शव को फांसी के फंदे से उतारकर अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया. मूर्तक यूवक के परिजन देर रात को बांसवाड़ा से कोटा पहुंचेंगे जिसके बाद सोमवार को मूर्तक के शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंपा जाएगा.

नयापुरा थाना अशोक कुमार ने बताया कि मामले में मृतक युवक के कमरे में किसी प्रकार का कोई सुसाइड नोट नहीं मिलने से युवक की मौत के कारणों का खुलासा नही हो पाया है. परिजनों के कोटा पहुंचने पर उनसे मामले की जानकारी जुटाई जाएगी, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. वही इस मामले में भाजपाशहर जिलादयक्ष हेमंत विजय ने बताया कि मूर्तक दीपेश पिचले 6 माह से उनके यहां पर कार्य कर रहा था जो बांसवाड़ा का रहने वाला है. दीपेश परिवार के सदस्य की तरह था, उन्ही ने उसका अद्मिसिओं स्कूल में करा कर उसकी पढ़ाई का खर्चा उठा रहे थे. हाल ही में दीपेश की दादी शांत होने पर वो आपने गांव गया था, अचानक इस प्रकार की घटना के पीछे क्या कारण है इसका पता नहीं चल पा रहा है. दीपेश के परिवार में माता-पिता एक भाई और एक बहन है जिनको सूचित कर दिया है वो देर रात तक बांसवाड़ा से कोटा पहुंचेंगे. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*