Sunday , 21 July 2019
Breaking News
सदा प्रसन्न रहने वाला कभी बीमारियों का शिकार नहीं होता: चन्द्रप्रभ

सदा प्रसन्न रहने वाला कभी बीमारियों का शिकार नहीं होता: चन्द्रप्रभ

जोधपुर, 04 जून (उदयपुर किरण). राष्ट्र-संत चन्द्रप्रभ महाराज ने कहा कि प्रसन्न मन स्वर्ग का खजाना है, दुखी मन नरक का दरवाजा. अगर आप बगैर निमित्त के भी हँसते-मुस्कराते रहते हैं तो निश्चित ही आप बुद्धत्व के करीब हैं. प्रसन्नता स्वास्थ्य का राज है. सदा प्रसन्न रहने वाला तनाव, अवसाद, अकेलापन जैसी बीमारियों का शिकार नहीं होता.
उन्होंने कहा कि अपनी खुशी के लिए हर कोई कोशिश करता है. आप सोचिए कि आप दूसरों की खुशी के लिए क्या करते हैं. एक बात तय है कि जब आप दूसरों की झोली में खुशियाँ डालते हैं तो आपकी झोली में भी अनेक खुशियाँ आ जाती हैं. उन्होंने कहा कि आप हर हाल में सहज रहिए और आराम से बैठिए. तब भी, जब आपकी पत्नी आप पर झल्ला रही हो. याद रखें, सुन्दर गलीचे, फानूस और सोफे मकान को सुन्दर बनाते हैं, पर आपकी मुस्कान उस मकान को घर बनाने का काम करेगी. जब भी लगे दिमाग में तनाव या खिंचाव ज्यादा है तो आप घबराइए मत, प्रेशर कुकर बन जाइए और खुलकर हँसिए. यह आपके दिमाग के लिए शर्तिया दवाई का काम करेगा.
संतप्रवर संबोधि धाम में आयोजित कम्प्लीट पीसफुल माइंड प्रोगाम के दौरान शहरवासियों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि जीवन में एक फॉर्मूला याद रखिए – एल. एम. एल. यानी लोड मत लीजिए. होने वाला होता है, होनी का कैसा रोना. जो होनहार था, वही हुआ. हम भला होनी का लोड क्यों लें! आप तो बस हर हाल में खुश रहिए, हँसते-मुस्कराते रहिए. उन्होंने कहा कि खुशी और प्रसन्नता का संबंध न धन से है, न पद से है. इसका संबंध तो मन की स्थिति से है. स्थिति भले ही बदल जाए, पर अपनी मनस्थिति को कभी निगेटिव मत होने दीजिए. गरीब कम्बल में भी सुखी रह लेता है, पर अमीर मखमल की रजाई में भी चौन की नींद नहीं सो पाता. प्रसन्नता का संबंध इस बात से नहीं है कि जो आप चाहते हैं, वह आपके पास है या नहीं, बल्कि इस बात से है कि जो आपके पास है, आप उसमें खुश हैं या नहीं.
उन्होंने कहा कि प्रकृति ने आपको चेहरा दिया है, पर इसे भाव कौन-सा देना है यह आप पर निर्भर है. दो पल मुस्कराने से जब आपका फोटो सुन्दर आता है तो सदाबहार मुस्कराने से क्या सत्यम शिवम सुन्दरम को उपलब्ध नहीं हो जाएंगे?

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News