Monday , 14 October 2019
Breaking News
मोरराजी देसाई के नाम सबसे ज्यादा बार बजट पेश करने का रिकॉर्ड

मोरराजी देसाई के नाम सबसे ज्यादा बार बजट पेश करने का रिकॉर्ड

New Delhi, 25 जून (उदयपुर किरण). मोदी सरकार के नये कार्यकाल का पहला आम बजट वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण पांच जुलाई को संसद में पेश करेंगी. इससे एक दिन पहले वह लोकसभा के पटल पर रखेंगी. संसद में सरकार हर साल संविधान के अनुच्‍छेद 112 के तहत बजट पेश करती है. बजट में वित्‍त वर्ष में होने वाले खर्च का पूरा लेखा-जोखा रहता है. अपने पाठकों  को देश में सबसे ज्‍यादा बार बजट पेश करने वाले वित्‍तमंत्रि‍यों के बारे में बता रहा है.

मोरारजी देसाई ने 10 बार पेश किया बजट पेश

देश के संसदीय इतिहास में सबसे ज्यादा बार बजट पेश करने का रिकॉर्ड पूर्व वित्‍तमंत्री मोरारजी देसाई के नाम है,  जो कि देश के प्रधानमंत्री भी रह चुके हैं. देसाई ने दो बार अंतरिम बजट, जबकि 10 बार उन्‍होंने आम बजट पेश किया था. मोरारजी देसाई ने साल 1953 से लेकर साल 1963 तक हर वर्ष बजट प्रस्तुत किया. उनका दूसरा कार्यकाल साल 1967 से लेकर साल 1969 तक था. देसाई ने इसके अलावा वित्‍त वर्ष 1962-63 और वित्‍त वर्ष 1967-68 के लिए दो बार अंतरिम बजट भी पेश किया लेकिन साल 1964 और साल 1968 दोनों बार लीप ईयर में भी देसाई ने अपने जन्मदिन (29 फरवरी) को बजट पेश किया.

चिदंबरम के नाम 9 बार बजट पेश करने का रिकॉर्ड

इसके बाद दूसरे नंबर पर पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम का नाम आता है. चिदंबरम के नाम कुल नौ बार संसद में बजट पेश करने का रिकॉर्ड है.

इन वित्‍त मंत्रियों ने 7-7 बार किया आम बजट पेश

तीसरे नंबर पर इन वित्‍त मंत्रियों के नाम रिकॉर्ड दर्ज है, जिसमें प्रणब मुखर्जी, यशवंतराव बलवंतराव चव्हाण, यशवंत सिन्हा और सीडी देशमुख ने संसद में 7-7 बार आम बजट पेश किया. वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा ने बजट पेश करने का समय शाम पांच बजे की जगह पर बदलकर सुबह 11 बजे पेश करने की परंपरा शुरू की थी.

बजट पेश करने का संख्या

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जो बतौर वित्‍तमंत्री और देश के चौथे वित्त मंत्री रहे टीटी कृष्णामचारी ने भी संसद में छह-छह बार आम बजट पेश किया. जबकि वित्‍त वर्ष 2014-18 के बीच वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कुल पांच बार आम बजट संसद में पेश किया. इसके अलावा पूर्व राष्‍ट्रपति आर. वेंकटरमण और एच.एम. पटेल ने अपना कार्यकाल के दौरान बतौर वित्‍तमंत्री तीन बार आम बजट पेश किया. वहीं, पूर्व प्रधानमंत्री वी.पी. सिंह बतौर वित्‍तमंत्री और जसवंत सिंह, जॉन मथाई, सी सुब्रमण्यम और आर.के. शानमुखम चेट्टी ने दो-दो बार बजट पेश किया था.

जवाहर लाल नेहरू और इन्‍होंने भी पेश किया है बजट

देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी,  राजीव गांधी, चौ. चरण सिंह, एनडी तिवारी, मधु दंडवते, एस.बी. चव्हाण और सचिंद्र चौधरी ने भी बतौर वित्‍तमंत्री एक-एक बार आम बजट पेश किया. वहीं, इंदिरा गांधी देश के इतिहास में वित्तमंत्री बनने वाली पहली महिला थीं. तो अब 2019 में निर्मला सीतारमण देश की दूसरी महिला वित्तमंत्री बनी.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*