Sunday , 21 July 2019
Breaking News
अंतरा इंजेक्शन लेने वाली महिलाओं में इजाफा, छाया टेबलेट लेने वाली महिलाओं की संख्या में भी बढ़ोत्तरी 

अंतरा इंजेक्शन लेने वाली महिलाओं में इजाफा, छाया टेबलेट लेने वाली महिलाओं की संख्या में भी बढ़ोत्तरी 

हमीरपुर, 08 मई (उदयपुर किरण). हमीरपुर जिले में बेहद कम समय में अंतरा गर्भनिरोधक इंजेक्शन महिलाओं के लिए खास हो गया. एक साल में लक्ष्य के सापेक्ष 96 फीसदी महिलाओं ने इस इंजेक्शन को अपनाया है. लाभार्थी महिलाएं इंजेक्शन के नतीजों से भी खुश है. दूसरी तरफ छाया टेबलेट भी परिवार सीमित करने के साधनों में तेजी से लोकप्रिय हो रही है.

गर्भनिरोधक के पुराने साधनों के इतर गत वर्ष अंतरा इंजेक्शन और छाया टेबलेट को लांच किया गया था. जिसके बाद इन दोनों साधनों ने महिलाओं के बीच अपनी जगह बनानी शुरू कर दी. इन दोनों नए साधनों के नतीजें भी अच्छे आए. जिससे महिला लाभार्थी खुश है. जिला परिवार नियोजन विशेषज्ञ डॉ.रवि प्रजापति ने बुधवार को बताया कि वर्ष 2018-19 में 1295 अंतरा इंजेक्शन का लक्ष्य रखा गया था. जिसके सापेक्ष मार्च 2019 तक 1247 महिलाओं ने इस इंजेक्शन को अपनाया है. जो लक्ष्य का 96 प्रतिशत है.

नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हमीरपुर और राठ में भी इस अंतरा-छाया को पिछले माह ही लांच किया गया है. जिसके बाद इन दोनों नगर क्षेत्रीय के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से भी अच्छे नतीजे आ रहे है. अंतरा इंजेक्शन के मामले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मौदहा जनपद में अव्वल है. यहां एक साल में 207 महिलाओं ने इस इंजेक्शन को लगवाया है. जबकि मुस्करा सीएचसी में 191 महिलाओं ने इस इंजेक्शन को अपनाया है. जिला महिला अस्पताल में 496 महिलाएं रजिस्टर्ड है. जनपद में छाया टेबलेट लेने वाली महिलाओं की संख्या १1483 है. प्रजापति ने बताया कि अंतरा-छाया के लिए 88 एएनएम, 14 एमबीबीएस डॉक्टर और 8 आयुष डॉक्टरों को ट्रेंड किया गया है.

 

खास बात 

टोल फ्री अंतरा केयर लाइन नंबर 18001033044 पर परामर्श की सेवा रोजाना उपलब्ध रहती है. इंजेक्शन उपरांत परामर्श के लिए सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक कॉल की जा सकती है.

 

अंतरा इंजेक्शन कौन लगवा सकता है 

ऽ नवविवाहित दंपति.

ऽ प्रसव के बाद स्तनपान कराने वाली महिला. प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद शुरू कर सकती है.

ऽ महिला जो दो बच्चों के बीच अंतर रखना चाहती है.

 

पहला इंजेक्शन लग सकता है 

ऽ माहवारी शुरू होने के 7 दिन के अंदर.

ऽ प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद.

ऽ गर्भपात होने के बाद तुरंत या ७ दिन के अंदर.

 

अंतरा इंजेक्शन के लाभ

ऽ महिला की गोपनीयता सुनिश्चित करता है.

ऽ माहवारी में होने वाली ऐंठन को कम करता है.

 

क्या करें

ऽ अंतरा कार्ड पर दी गई निर्धारित तिथि पर ही इंजेक्शन लगवाएं.

ऽ स्वास्थ्य केंद्र जाने पर अपना अंतरा कार्ड अवश्य साथ ले जाएं.

https://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News