Latest news
Thursday , 17 August 2017

RELIGION

जानिये भगवान का भोग 56 ही क्यों होता है, 57 क्यों नहीं

ऐसा कोई धार्मिक आयोजन नहीं देखा या सुना होगा जहां भगवान के 56 भोग का जिक्र नहीं होता हो। 56 भोग आरोगने के बाद तो ठाकुरजी एक्टिव मोड़ पर जल्दी से आ जाते है और इसके बाद जो मांगो वो फटाक से 2 मिनट में दे डालते है। भगतों के लिए सब कुछ छोड़कर आने वाले भगवान कभी भी बिना ... Read More »

वातावरण निर्माण के लिए गाँवों में निकाली जागरूकता रैली

बाँसवाड़ा। विश्व योग दिवस पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में आम लोगों की भागीदारी बढ़ाने के लिए जनसम्पर्क कर तथा रैलियां आयोजित कर वातावरण निर्माण किया जा रहा है। मंगलवार को भी जिले के विभिन्न क्षेत्रों में रैलियां निकाली गई तथा लोगों से सम्पर्क कर अभियान में भागीदारी करने तथा नियमित योग का दैनिक जीवन में महत्व विषयक जानकारियां दी ... Read More »

साल का पहला सूर्य ग्रहण आज, भूलकर भी न करें ये काम

आज रविवार को इस वर्ष का पहला सूर्यग्रहण है। भारतीय समयानुसार सूर्यग्रहण शाम 5 बजकर 40 मिनट पर शुरू होगा और रात 10 बजकर 1 मिनट तक रहेगा। शास्त्र में कुछ ऐसे काम बताए गए है जो ग्रहण के समय नहीं करना चाहिए। अगर आपने ये काम किएं तो आपको कई परेशानियों से गुजरना पड़ सकता है। जानिए, ग्रहण के ... Read More »

नोटबंदी की भविष्यवाणी साल 2016 में हो गई थी

नोट बंद होने से उत्पन्न स्थिति के बाद सोशल मीडिया में अत्यंत गंभीर चर्चाओं और राजनेताओं के आरोपों, प्रत्यारोपों के बीच ज्योतिषियों पर भी प्रहार होते रहे कि देश में 50 लाख ज्योतिषी हैं परंतु किसी को इसका पूर्वाभास क्यों नहीं हुआ और नास्त्रेदमस की तरह किसी ने इसकी भविष्यवाणी क्यों नहीं की? आप विभिन्न पंचांगों पर नजर डालें तो ... Read More »

ऐतिहासिक शिव मंदिर बैजनाथ में आज होगी अखरोटों की बारिश

ऐतिहासिक शिव मंदिर बैजनाथ में रविवार को अखरोटों की बारिश होगी। बैकुंठ चौदस पर हर साल मंदिर में अखरोटों की बारिश होती है तथा सैकड़ों श्रद्धालु अखरोटों को प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं। जानकारी के मुताबिक मंदिर के पुजारी सुरेंद्र आचार्य के अनुसार, पुराने समय में शंखासुर राक्षस के अत्याचारों से लोगों में ही नहीं बल्कि देवताओं में ... Read More »

अप्सरा पुत्र हनुमान जी की मां थी कुंवारी!

झारखंड में रांची से करीब 140 किमी. की दूरी पर गुमला जिला हनुमान जी का ननिहाल है। इस स्थान पर हनुमान जी की माता अंजनि ने लम्बे अर्से तक निर्वाह किया था क्योंकि उन्हें कुंवारी मां बनने का और अप्सरा होते हुए भी वानरी बन जाने का श्राप मिला था। सैंकड़ों वर्ष बीतने के बाद आज भी माता अंजनि और ... Read More »

हवाई जहाज से तीर्थ जाएंगे बुजुर्ग, 25 नवम्बर तक ई-मित्र से भरे जाएंगे ऑनलाइन आवेदन

वरिष्ठ नागरिकों को देवस्थान विभाग ने नि:शुल्क तीर्थ यात्रा में इस बार बड़ा तोहफा दिया है। 70 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग हवाई जहाज से तीर्थ यात्रा कर सकेंगे। योजना के आवेदन 11 नवम्बर से भरना शुरू हो गए जो 25 नवम्बर तक भरे जाएंगे। आयुक्त अशोक यादव ने बताया कि आवेदन पत्र ई-मित्र केन्द्रों पर ऑनलाइन भरे जा ... Read More »