Latest news
Monday , 22 January 2018

लंका का डंका : 112 रन पर ढेर हुई भारतीय टीम, धोनी के चलते पार हुआ सैकड़ा

टेस्‍ट मेचों में बुरी तरह से पराजित होने के बाद आज पहले एकदिवसीय मैच में लंका ने अपना डंका बजाया और भारत को बता दिया कि अभी भी लंका के खिलाडि़यों में दम है। रोहित शर्मा, शिखर धवन, हार्दिक पंड्या, मनीष पांडे, श्रेयस अय्यर और दिनेश कार्तिक यह सभी कागजों पर ये खिलाड़ी टीम इंडिया को मजबूत बैटिंग लाइनअप बनाते हैं, लेकिन धर्मशाला में सब ताश के पत्तों की तरह ढेर हो गए। लंकाई बोलिंग के आगे टीम इंडिया महज 112 रनों पर ढेर हो गई। हालत इससे भी कहीं अधिक खराब होती यदि महेंद्र सिंह धोनी संकचमोचक बनकर न आते। एक तरफ विकेटों का पतझड़ चलता रहा तो दूसरी तरफ धोनी पारी को संवारने की जद्दोजहद में लगे रहे। उन्होंने 65 रन की अर्धशतकीय पारी खेलकर टीम को सैकड़े के पार पहुंचाया।

इस झटके से टीम इंडिया संभल भी नहीं सकी थी कि विराट की गैरमौजूदगी में कप्तानी संभाल रहे रोहित शर्मा भी महज दो रन बनाकर चलते बने। उस वक्त टीम का स्कोर भी महज 2 रन था। रोहित शर्मा को सुरंगा लकमल ने विकेट के पीछे कैच कराने में सफलता हासिल की थी। इसके बाद दिनेश कार्तिक भी बिना खाता खोले लकमल की गेंद पर पविलियन लौट गए। कार्तिक ने विकेट पर जमने के लिए 18 गेंदें खेलीं, लेकिन लकमल की गेंद पर चकमा खाकर वापस लौट गए।

यही नहीं लंबे समय बाद टीम इंडिया में वापसी करने वाले मनीष पांडे भी 15 गेंदों पर महज 2 रन बनाकर लकमल की ही गेंद पर चलते बने। इसके बाद पदार्पण करने वाले श्रेयस अय्यर भी 9 रन बनाकर बोल्ड हो गए। वहीं, धोनी के साथ विकेट पर जमने की कोशिश में जुटे हार्दिक पंड्या भी 10 रन बनाकर ही पविलियन लौट गए। पंड्या को नुवान प्रदीप की गेंद पर मैथ्यूज ने कैच आउट किया। इसके बाद गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार भी शून्य पर ही आउट हो गए।

भुवनेश्वर के आउट होने पर पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और कुलदीप यादव ने टीम को न्यूनतम स्कोर पर आउट होने से बचाया और स्कोर को 70 रनों तक ले गए। लेकिन, 26वें ओवर की तीसरी गेंद पर कुलदीप यादव स्टंप आउट हो गए। वहीं, जसप्रीत बुमराह भी 87 रन के टीम स्कोर पर 15 गेंदों में बिना कोई रन बनाए ही लौट गए।

Loading...